आज राष्ट्रीय स्तर पर तीनमहत्वपूर्ण दिन

भारतीय इतिहास में आज (26 नवंबर) तीन ऐसे महत्वपूर्ण दिन हैं जो हर देशवासी को जानने की दृष्टि से काफी मायने रखते हैं और जिन्हें हमें याद भी रखना चाहिए। यही नहीं बल्कि कोई भी राष्ट्रीय दिन हो या किसी भी रूप में मनाया जाने वाला दिन हो, हमारे अंदर जानने की जिज्ञासा होनी चाहिए।

पहला दिन है संविधान दिवस-
हमारे देश के संविधान को तैयार करने में 2 वर्ष, 11 माह 18 दिन लगे थे और यह 26 नवंबर, 1949 को बनकर तैयार हुआ था। जबकि इसे 26 जनवरी, 1950 को भारत गणराज्य का संविधान लागू किया गया।

भारतीय संविधान – साभार: सोशल मीडिया

पहले इसे राष्ट्रीय कानून दिवस के रूप में मनाया जाता था। 26 नवंबर, 2015 को संविधान सभा के प्रारूप समिति के अध्यक्ष डॉ. भीमराव आंबेडकर के 125वें जयंती पर पहली बार केंद्र सरकार द्वारा इसे पूरे देश में संविधान दिवस के रूप में मनाया गया और तभी से इसे हर वर्ष 26 नवंबर को ‘संविधान दिवस’ के रूप में मनाया जा रहा है।

दूसरा दिन है 26/11 मुंबई आतंकी हमले की-

26/11 मुंबई आतंकी हमला, साभार: सोशल मीडिया

मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमले को आज 13 वर्ष हो गए हैं। वर्ष 2008 में 26 नवंबर के दिन 10 आतंकवादी समुद्री मार्ग से मुंबई पहुंचे थे और ताज होटल समेत कई जगहों पर अंधाधुंध गोलीबारी की थी, जिसमें 18 सुरक्षाकर्मी समेत 166 लोग मारे गए थे। साथ ही कई अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे।
हमले में शहीद हुए उन सभी पुलिस कर्मचारियों और नागरिकों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि…

तीसरा दिन है किसान आंदोलन को एक साल-
भारतीय इतिहास में सबसे ज़्यादा समय तक चलने वाले किसान आंदोलन को आज एक वर्ष पूरे हो गए हैं। तीनों कृषि कानूनों की वापसी की मांग को लेकर किसान दिल्ली बॉर्डर पर पिछले एक साल से डटे हुए हैं।
हालांकि मोदी सरकार ने बीते 19 नवंबर को तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा कर दी है और 29 नवंबर से शुरू होने जा रहे संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान इन कृषि कानूनों की वापसी का बिल पास किया जाएगा।
लेकिन फिर भी किसानों ने एमएसपी पर गारंटी की मांग और और संसद में बिल पास होने तक आंदोलन जारी रखा है।

#संविधान_दिवस #indianconstitutionday #2611mumbaiattack #2611hamla
#किसान_आंदोलन #farmersprotest #farmlaws #farmlawsrepeal