September 25, 2021

रियल लाइफ के हीरो- सोनू सूद के 48वें जन्मदिन पर उनके जीवन के कुछ अनसुने पहलू

सोनू सूद फिल्मी जगत का एक ऐसा है नाम जिसने रील लाइफ में तो अधिकतर विलेन का किरदार निभाया लेकिन रियल लाइफ में वो रियल हीरो साबित हुए. चाहे वह साल 2020 में देश में फैले कोरोना वायरस महामारी के दौरान कई लोगों की निःस्वार्थ मदद और सेवा की बात हो या फिर देश में लगे लॉकडाउन के दौरान घर से दूर अलग-अलग जगह फंसे प्रवासी मजदूरों को अपने खर्चें पर उनके घर तक पहुंचाना हो। इसके अलावा उन्होंने प्रवासी मजदूरों को जॉब दिलाने के लिए एक एप भी लॉन्च किया है। उन्होंने ऐसे ना जाने कितने जरूरतमंदों की जरूरत बनकर लोगों के दिलों में घर बनाया और एक अलग छाप छोड़ी.
आज भी वह देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में अपने कामों की वजह से सुर्खियों में छाए रहते हैं. इतना ही नहीं फैंस उन्हें मसीहा की तरह पूजते हैं.
वहीं संकटग्रस्त लोगों की मदद के दौरान हुए अनुभवों पर उन्होंने ‘मैं मसीहा नहीं’ शीर्षक से एक पुस्तक लिखी है। पत्रकार मीना के अय्यर इस पुस्तक की सहलेखिका हैं।
उनके 48वें जन्मदिन पर आइये जानते हैं उनके जीवन के कुछ अनसुने किस्से…

कैसी है निजी जिंदगी-

सोनू सूद का जन्म 30 जुलाई, 1973 को पंजाब के मोगा जिले में हुआ था। उनके पिता का नाम शक्ति सागर सूद और मां का नाम सरोज सूद था। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मोगा से पूरी की. उसके बाद उन्होंने उच्च शिक्षा नागपुर से पूरी की।
बता दें कि सोनू ने वाईसीसीई नागपुर से इलेक्ट्रॉनिक्स से इंजीनियरिंग भी की है।
सोनू का मन इंजनियरिंग में नहीं लगा और उन्होंने मॉडलिंग को अपना करियर चुना। वह मिस्टर इंडिया के प्रतियोगी भी रहे।

सोनू सूद की पत्नी का नाम सोनाली है। सोनू और सोनाली ने साल 1996 में शादी की थी। इनके दो बेटे भी हैं। जल्द ही दोनों की शादी को 25 साल पूरे होने जा रहे हैं। सोनाली का बॉलीवुड से दूर-दूर तक कोई नाता नहीं है। शायद यही कारण है कि वो लाइमलाइट से दूर रहना ही पसंद करती हैं। सोनू फैमिली मैन हैं और वह अक्सर अपने बच्चों के साथ समय बिताते हैं।

फिल्मी में एंट्री-

साल 1999 में सोनू ने तमिल फिल्म ‘कल्लाझागर’ से अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की। हालांकि, इससे पहले भी वह कुछ म्यूजिक एलबमों में नजर आ चुके थे।

साल 2002 में सोनू ने हिंदी फिल्म ‘शहीद ए आजम से बॉलीवुड में डेब्यू किया। इस फिल्म में वो भगत सिंह के किरदार में नजर आए थे।

वहीं साल 2009 में आई तेलुगु फिल्म ‘अरुंधति’ सोनू की जिंदगी का टर्निंग प्वाइंट रही। इस फिल्म में सोनू के किरदार और अभिनय को दर्शकों ने खूब पसंद किया और इसके बाद सोनू ने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा।

वह हिंदी के अलावा तमिल, तेलुगु, कन्नड़, उर्दू भाषा की फिल्मों में भी अभिनय करते नजर आए। वैसे तो सोनू ने फिल्मों में लगभग हर तरह के किरदार निभाए हैं, लेकिन ज्यादातर फिल्मों में वह विलेन की भूमिका में ही नजर आए हैं। इसके बावजूद उनके चाहने वालों की संख्या लाखों में है।
सोनू की प्रमुख फिल्मों में जिंदगी खूबसूरत है, राजा, आशिक बनाया आपने, जोधा अकबर, सिंह इज किंग, एक विवाह ऐसा भी, अरूंधति, दबंग, बुड्ढा होगा तेरा बाप, शूटआउट एट वडाला, रमैया वस्तावैया, आर राजकुमार, इंटरटेनमेंट, हैप्पी न्यू ईयर, गब्बर इज बैक, दबंग 3 आदि शामिल हैं।

कोरोना काल में गरीबों और जरूरमंदों के लिए मसीहा बनकर सामने आए अभिनेता सोनू सूद अब भी लगातार जरूरतमंदों की हर तरह से मदद कर रहे हैं।
सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाले सोनू सूद जल्द ही अक्षय कुमार और मानुषी छिल्लर के साथ फिल्म ‘पृथ्वीराज’ में नजर आएंगे।

रियल लाइफ के हीरो- सोनू सूद को 48वें जन्मदिन की अनंत शुभकामनाएं…. आप यूं ही सितारों की तरह हमेशा चमकते रहें…ईश्वर से यही प्रार्थना है…आप जैसे हीरोज़ की देश को जरूरत है…

– The Political Mantra Team